Read Albert Einstein Biography, Story, Information, History in Hindi

Albert Einstein Biography, Success Story

एक लड़का जिसे बचपन में उसके टीचर Lazy डॉग और पागल बुलाते थे वो आगे चलकर एक फेमस साइंटिस्ट बना। 20th century के फेमस साइंटिस्ट में से एक नाम Albert  Einstein  का भी था। विश्व प्रसिद्ध साइंटिस्ट की लिस्ट में Einstein, newton के साथ पहले नंबर पर है। वे maths और physics की मुश्किल से मुश्किल कॅल्क्युलेशन्स को मिनटों में हल कर देते थे। Einstein अपने सापेक्षता के सिद्धांत और द्रव्यमान ऊर्जा समीकरण (theory of relativity and mass energy equation( E = mc2)) के लिए पूरी दुनिया भर में जाने जाते है। Einstein ने physics में कई नए-नए सिद्धांतों का प्रतिपादन किआ है। वे जितने बड़े साइंटिस्ट थे उतने ही बड़े दार्शनिक भी थे।

 

Albert Einstein Biography, Story, Information, History in Hindi

 

Name– Albert Hermann Einstein

Date of Birth –  14 March 1879 (Ulm Germany)

Father’s Name – Hermann Einstein

Mother’s Name – Pauline Coach

Residence – Germany, Italy, Australia, America

Die- 18 April 1955

Albert Einstein Biography >> Bachpan Or Shiksha

Einstein का जन्म 14 march 1879 को ulm germany में एक साधारण से परिवार में हुआ था। उनके पिता एक सेल्स मैन और इंजीनियर थे और उनकी माता एक हाउसवाइफ थी। Einstein के जन्म के समय उनका सर और बच्चो के मुकाबले काफी बड़ा था। जिसे देख सारे डॉक्टर भी हैरान हो गए थे।

वे 4 साल की उम्र तक कुछ भी बोल नहीं पते थे। जिस  वजह से उन्होंने स्कूल जाना भी काफी लेट शुरु किया। लेकिन एक दिन अचानक जब वे अपने माता पिता के साथ बैठकर खाना खा रहे थे तो उन्होंने अपने 4 साल तक की खामोसी को समाप्त करते हुए कहा की शूप बहुत गरम है। जिसे सुन उनके माता पिता बहुत हैरान हो गए। Einstein अपनी  9 साल की उम्र तक सही से बोल नहीं पते थे। Einstein सारंगी बजाने के शौकीन थे। उन्होंने 6 साल की उम्र से ही सारंगी बजाना सुरु किआ था।

Albert Einstein Information, History

उन्होंने अपनी शिक्षा जर्मनी के म्युनिक शहर के कैथोलिक प्राइमरी स्कूल से सुरु की। वे बचपन में पढ़ाई में बहुत ज्यादा कमजोर थे। जिस वजह से सभी उनका मजाक बनाते थे और उनके टीचर उन्हें मंद बुद्धि, पागल कहा करते थे। Einstein का मानना था की स्कूल उनके लिए जेल के सामान है जिसमे विद्यार्थियों का शोषण किआ जाता है। जब Einstein 5 साल के थे तब उनके पिता ने उन्हें एक मैग्नेटिक कंपास लेकर दिया जिसमे Einstein ने देखा की उसमे कंपास की सुई हमेसा नार्थ डायरेक्शन में ही रहती है तो उनके मन में सवाल उठा की ऐसा क्यों होता है और कैसे होता है, यही से उनमे विज्ञान के प्रति रूचि बड़ी।

Albert Einstein Biography >> Shiksha

उन्होंने अपने टीचर से पूछा की वे अपनी बुद्धि का विकास कैसे कर सकते है तब उनके टीचर ने कहा अभ्यास करने से सब कुछ सीखा जा सकता है। अभ्यास ही सफलता का मूलमंत्र है। टीचर की इस बात का Einstein के दिमाग में गहरा प्रभाव पड़ा और उन्होंने एक निश्चय किया की वे एक दिन अभ्यास के बल पर कुछ कर के दिखायेंगे।

12 साल की उम्र तक Albert Einstein ने अपने अभ्यास और महनत से Science और Maths में महारत हासिल कर ली थी। उन्होंने 12 साल की उम्र में ज्यामिति की  खोज कर ली। वे अब गणित की बड़ी से बड़ी मुश्किलों को मिनटों में हल कर लेते थे।

Einstein अपनी आगे की पढ़ाई के लिए स्विज़रलैंड चले गए वहाँ उन्होंने Zurich polytechnic college में एडमिशन एंट्रेंस एग्जाम दिए। वे maths और physics के अलावा और सभी विषयो में फैल हो गए। लेकिन maths और physics में अच्छे मार्क्स लाने के कारण उन्हें अड्मिशन मिल गया। उन्होंने फेडरल इंस्टुटें ऑफ़ टेक्नोलोग्य से ग्रेजुएशन किया।

शिक्षा को लेकर उनका कहना था की शिक्षा वो है जो आपको तब भी याद रहे जब आप सब कुछ भूल गए हो।

Albert Einstein Success  Story >>Carrier

पढ़ाई पूरी करने के बाद Einstein ने नौकरी तलाशनी शुरू कर दि। लेकिन कई जगह कोशिश करने के बाद भी उन्हें नौकरी नहीं मिली। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और कोशिश करते रहे। उनका कहना था कि “आपकी हार तब होती है जब आप कोशिश करना छोड़ देते है।”

उन्होंने Ph.D की पढ़ाई के दौरान ही Newton के Theory of Relativity को गलत बताते हुए एक नए सिद्धांत को जन्म दिया(E=Mc2) । इस सिद्धांत के प्रयोग से ही जापान पर पहला परमाणु हमला किया गया। जीसका विरोध Einstein अपने पुरे जीवन करते रहे। Einstein ने 300 से भी अधिक वज्ञानिक और 150  गैर वज्ञानिक शोध पत्रों का प्रकाशन किय। 1921 मैं उन्हें नोबेल अवार्ड मिला जिसके बाद उन्हें नौकरी के ढेर सारे ऑफर आने लाग। जिसमे से उन्होंने Zurich University के प्रोफेसर पद को चुना।

Albert Einstein Information, History

जब हिटलर इटली का शासक बना तो उसने यहूदियों को मारना सुरु कर दिया। उस वक़्त Einstein अपनी खोजों से विज्ञानं की दुनिया में बदलाव लाने के काम कर रहे हिटलर ने  Einstein के सारे रिसर्च पपेरो को जला दिया जिससे Einstein को बहुत दुःख हुआ और उन्होंने इटली को हमेशा के लिए छोड़ने का निर्णय लिया। वे इटली को हमेशा के लिए छोड़ अमेरिका चले गए। वहाँ उन्होंने Princeton College, New Jersey में नौकरी की। Einstein को 1952 में इजराइल के परसिडेंट पद के लिए सिफारिश की गयी लेकिन उन्होंने मना कर दिया, उनका  कहना था कि वे राजनीती के लिए नहीं बने है।

Albert Einstein Biography, Story, Information, History in Hindi

 

Albert Einstein Information >>Niji-Jeevan

Einstein बहुत ही सरल सवभाव के थे। उनकी भाषा जर्मन थी लेकिन उन्होंने इटालियन और अंग्रेजी भाषा भी सिखी। Einstein ने 2 सादिया की उन्होंने पहली शादी 1902 में  मरिएक के साथ की जिनसे हुआ 2 बेटे हुआ। लेकिन कुछ साल बाद उनका तलाक हो गया। उन्होंने दूसरी सदी 1919 में अलीसा लोवेन के से की। वे कई बड़ी बड़ी थ्योरी और अविष्कार बिना किसी प्रयोगसाला के प्रयोग के अपने दिमाग में ही पूरा रिसर्च कर लेते थे । उनका दिमाग ही उनका लैब थी। वे अपने ऑटोग्राफ देने के लिए लोगो से पैसे लिया करते थे और उन पैसे जो जरूरतमंद लोगो में बाट दिया करते थे। उनकी याददास बहुत कमजोर थी उन्हें हमेशा  डेट और फ़ोन नंबर याद करने में दिखकत होती थी। कई बार तो वे अपना घर का पता भी भूल जाते थे। Einstein द्वारा किये गए अविष्कारों से अमेरिकन सरकार इतना डर गयी थी की उनसे Einstein की सारी गतिविधियों पर नजर रखने के लिए एक स्पाई रखा था जिससे कोई भी उनके द्वारा किए गए खोजों का गलत प्रयोग न कर सके।

Albert Einstein Biography, Success Story

Einstein Ko Mile Pruskar

1921 में Einstein को Law of Photoelectric Effect के लिए Physics में Nobel Award मिला।

Albert Einstein Ka Vaigyanik Karykal

Einstein ने अपने वैज्ञानिक जीवन में बहुत से सिद्धांत और अविष्कार किये। उन्होंने कई  सारी किताबों का प्रकाशन किआ। 1905 मिराबिलिस पेपर्स  ने Einstein को ओनलोडर   फिजिक्स नाम की वैज्ञानिक पत्रिका में प्रकाशित किया। उन्होंने भौतिकी में बहुत से सिद्धान्त का परिपादन किआ है जिसमे से  सापेक्षता का सिद्धांत और द्रव्यमान ऊर्जा समीकरण को दुनिया भर में जाना जाता है।

Theory of Relativity –  इस सिद्धांत में उन्होंने ब्रह्माण्ड के नियमों को समझाया। उन्होंने इस सिद्धांत से विज्ञानं की दुनिया को बदल कर रख दिया। Einstein  ने इसके द्वारा अंतरिक्ष,समय,द्रव्यमान, ऊर्जा और ग्रुरुत्वकर्षण के प्रति दृष्टिकोण बदल कर रख दिया। उन्होंने 1905 में Special relativity और 1915 में Principles of General Relativity को प्रस्तुत किया और विज्ञानं की दुनिया में तहलका मजा दिया।

Mass energy equation –  Einstein ने  ऊर्जा और द्रव्यमान के बीच एक समीकरण का प्रतिपादन किया जिसे परमाणु ऊर्जा कहा जाता है। E=mc2 में E=प्रकाश की ऊर्जा, m= द्रव्यमान c= प्रकाश का वेग होता है। Einstein के इस फार्मूला का कुछ लोगो ने गलत प्रयोग कर जापान में  परमाणु विस्फोट कर दिया।

Albert Einstein Information, History

Quantum theory of light यह सिद्धांत उन्होंने 1905 में  दिया जिसमे उन्होंने बताया की दुनिया छोटे छोटे कणों और ऊर्जा से मिलकर बनी है। इस सिद्धांत का प्रतिपादन ऊष्मा विकिरण के संबंध में हुआ था।

Brownian motion यह Einstein की सबसे बड़ी खोज में शामिल है। किसी तरल के अंदर तैरते हुए कणो की टेडी मेडी गति को ब्रोनियन गति कहते है।

Albert Einstein History >>  Death

Einstein की मृत्यु  26 अप्रैल 1955 को New Jersey, USA में हुई। उनकी मृत्यु के बाद उनकी आँखों को निकल कर New York मै एक सेफ मे रख दी गयी और उनके दिमाग को pathologist Dr. Thomas Stoljad Harvey ने रिसर्च के लिए निकल लिया 20 सालो तक उनका दिमाग ऐसे ही पड़ा रह। लेकिन 20 साल बाद उनके बेटे Hans Albert Einstein की अनुमति से Dr. Thomas ने उनके दिमाग से  200 टुकड़े कर अलग अलग वज्ञानिकों के पास रिसर्च के लिए भेज दिया गया। जिसमें पाया गया कि उनके दिमाग मे नार्मल इंसान के तुलना मे एक असाधारण सेल संरचना थी । जिससे उनका दिमाग असाधारण सोचता था।

Read Other People Success Stories
Read Elbert Einstein Wikipedia

1 thought on “Read Albert Einstein Biography, Story, Information, History in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *